Fri. Jun 21st, 2024

चुनाव कार्यक्रम घोषणा के दौरान आयोग ने की कार्रवाई
बोले- निष्पक्ष चुनाव करने के लिए उठाया जाएगा हर कदम
मुख्य चुनाव आयुक्त राजीव कुमार और चुनाव आयुक्त ज्ञानेश कुमार और सुखबीर सिंह संधू ने लिया फैसला

नई दिल्ली। चुनाव आयोग ने आम चुनाव के लिए पहला नोटिफिकेशन जारी करने से पहले सोमवार बड़ी कार्रवाई की की है। आयोग ने 6 राज्यों के गृह सचिव को हटाने का आदेश जारी किया है। इसके अलावा पश्चिम बंगाल के डीजीपी को भी हटाने का आदेश दिया गया है। चुनाव आयोग ने लोकसभा चुनाव के कार्यक्रम की घोषणा करने के दौरान कहा था कि वो निष्पक्ष चुनाव कराने के लिए हर संभव कदम उठाएगा। मुख्य चुनाव आयुक्त राजीव कुमार और चुनाव आयुक्त ज्ञानेश कुमार और सुखबीर सिंह संधू की बैठक में ये फैसला लिया गया।
चुनाव आयोग ने गुजरात, उत्तर प्रदेश, बिहार, झारखंड, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड के गृह सचिवों को हटाने का निर्देश जारी किया है। इसके अलावा मिजोरम और हिमाचल प्रदेश के सामान्य विभाग के सचिव को भी हटाने का आदेश दिया गया है।
लोकसभा चुनाव के कार्यक्रम की घोषणा के कुछ दिनों बाद आयोग ने बृह्नमुंबई महानगर पालिका के आयुक्त इकबाल सिंह चहल, अतिरिक्त आयुक्तों और उपायुक्तों को हटाने का भी आदेश दिया। आयोग ने सभी राज्य सरकारों को निर्देश दिया था कि वे चुनाव संबंधी कार्यों से जुड़े उन अधिकारियों का तबादला करें, जिन्होंने (पद पर) तीन साल पूरा कर लिया है या अपने गृह जिलों में तैनात हैं। महाराष्ट्र ने कुछ नगर निगम आयुक्तों, अतिरिक्त आयुक्तों और उपायुक्तों के संबंध में निर्देशों का पालन नहीं किया था।



उत्तराखंड के गृह सचिव को हटाया
देहरादून। भारत निर्वाचन आयोग ने लोकसभा चुनाव की आचार संहिता लागू करने के तीसरे दिन ही बड़ा आदेश जारी कर दिया है। आयोग ने उत्तराखंड समेत उत्तर प्रदेश, गुजरात, बिहार झारखंड और हिमाचल प्रदेश के गृह सचिव को हटाने के का आदेश जारी किया है। उत्तराखंड में कुछ ही माह पहले शैलेश बगोली को गृह सचिव बनाया गया था। अब राज्य में नए गृह सचिव की तैनाती को लेकर मंथन शुरू कर दिया गया है। उत्तर प्रदेश में संजय प्रसाद के पास गृह सचिव की जिम्मेदारी थी। वह मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के काफी करीबी माने जाते हैं। इसके अलावा उत्तर प्रदेश के कुछ वरिष्ठ पुलिस अधिकारी भी हटाए जा सकते हैं। इसी क्रम में भारत निर्वाचन आयोग ने पश्चिम बंगाल के डीजीपी को भी हटा दिया है। मुंबई बीएमसी के नगर आयुक्त इकबाल सिंह चहल पर भी आयोग ने कार्रवाई की है। इस समय निर्वाचन आयोग प्रत्येक सूचनाओं, संभावनाओं और आशंकाओं के साथ ही विभिन्न परिस्थितियों के मद्देनजर कार्रवाई कर रहा है।




मिजोरम-हिमाचल प्रदेश के कई सचिव को हटाया
नई दिल्ली। मिजोरम और हिमाचल प्रदेश के सामान्य प्रशासनिक विभागों के सचिव को हटा दिया गया है। लोकसभा चुनाव के कार्यक्रम की घोषणा के कुछ दिनों बाद मुख्य चुनाव आयुक्त राजीव कुमार की अध्यक्षता वाले चुनाव पैनल ने बृहन्मुंबई नगर आयुक्त इकबाल सिंह चहल, अतिरिक्त आयुक्तों और उपायुक्तों को हटाने का भी आदेश दिया।


चुनाव आयोग ने सभी राज्यों को दिए थे निर्देश
नई दिल्ली। आयोग ने सभी राज्य सरकारों को निर्देश दिया था कि वे चुनाव संबंधी कार्यों से जुड़े उन अधिकारियों का तबादला करें, जो तीन साल पूरे कर चुके हैं या अपने गृह जिलों में हैं। महाराष्ट्र ने कुछ नगर निगम आयुक्तों और कुछ अतिरिक्त और उप नगर आयुक्तों के संबंध में निर्देशों का पालन नहीं किया था। आयोग ने राज्य के मुख्य सचिव को सोमवार शाम छह बजे तक रिपोर्ट देने के निर्देश के साथ बीएमसी और अतिरिक्त एवं उपायुक्तों का स्थानांतरण करने का निर्देश दिया। मुख्य सचिव को महाराष्ट्र में समान रूप से पदस्थापित सभी नगर निगम आयुक्तों और अन्य निगमों के अतिरिक्त या उप नगर आयुक्तों को स्थानांतरित करने का भी निर्देश दिया गया। यह कदम मुख्य चुनाव आयुक्त राजीव कुमार और चुनाव आयुक्त ज्ञानेश कुमार और सुखबीर सिंह संधू की सोमवार को बैठक के बाद आया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *