Tue. Apr 23rd, 2024

देहरादून। कांग्रेस के भूड्डी निवासी वरिष्ठ नेता गुलजार, कमरूदीन (पूर्व ग्राम प्रधान एंव जिला पंचायत सदस्य नेता कम्युनिष्ट पार्टी ), आदिल पुत्र शरीफ अहमद, जमशेद पुत्र शरीफ अहमद, राजेन्द्र पुरोहित ( नेता कम्युनिष्ट पार्टी ) व अली शेर पुत्र अली हसन के खिलाफ कोर्ट के आदेश पर धोखाधड़ी सहित कई धाराओ में थाना सहसपुर में मुकदमा दर्ज किया गया है। पुलिस ने मुकदमा दर्ज करते हुए जांच शुरू कर दी है।
जैद रफी अंसारी , निवासी हसनपुर , शिमला बाई पास रोड ने बताया कि वह अपना व्यवसाय विगत कई वर्षो से करता चला आ रहा है । जैसे -जैसे प्रार्थी का व्यवसाय बढ़ने लगा तो आरोपियों उससे आये दिन लाखो रुपये की मांग करने लगे और कहा कि पैसे अदा करो नही तो हम तुम्हारा काम नही चलने देंगे और तुम्हे फर्जी मुकदमो मे फंसा देगे तथा तुम्हारी जमीन को भी हड़प कर कब्जा कर लेगे और तुझे व तेरे परिवार को जान से मार देगें। पीड़ित ने उनकी बातो को गम्भीरता से नही लिया, तो आरोपियों ने एक साथ मिलकर प्रार्थी के विरुद्ध फर्जी शिकायती प्रार्थना दिए ताकि प्रार्थनापत्रो की आड़ मे डरा धमकाकर प्रार्थी से अवैध वसूली की जा सके, पीड़ित इस कारण डर गया। आरोपियों के दिए गए झूठे प्रार्थनापत्र प्रेषित कर पीड़ित की छवि को धूमिल न कर दे और आरोपियें ने पीड़ित के पास अपने गुर्गे को पैसे की अवैध वसूली के लिये भेजा जिससे वह अत्यन्त भयभीत हो गया था, जिस कारण आरोपियों ने उससे लाखो रुपये की अवैध वसूली की। पीड़ित अपने व अपने परिवार की जान- माल की सुरक्षा व फर्जी मुकदमो के डर व सम्पत्ति पर अवैध कब्जो की धमकियो की वजह से आरोपियों ने लाखो रुपये की अवैध मांग को समय -समय पर देता रहा है जबकि पीड़ित जांचो मे पूर्ण रुप से पाक -साफ पाया गया, तक आरोपियों को यह ज्ञात हुआ, कि पीड़ित के परिवार व सहयोगियो की भूमि एनएच मे अधिकृत हो गयी है, तो उन्होंने माह मार्च 2022 मे 50,00,000 रुपये की पुनः मांग की और मांग पूरी न करने पर फर्जी मुकदमो मे फंसाने व जमीनो पर अवैध कब्जा व परिवार व सहयोगियो को जान से मारने की धमकी व एनएचए में करोड़ो का मुआवजा रोकने की धमकी देने लगे , जिसके उपरान्त आरोपियों ने अलग-अलग शिकायती प्रार्थना पत्र व प्रार्थी व प्रार्थी के केयरटेकर व परिवारजन के साथ मारपीट की गयी। यही नही माने और फिर प्रार्थी को एनएचए का मुआवजा जो कि करोड़ो रुपये मे आना था, जिसको लेकर आरोपियों ने धरने प्रदर्शन व शिकायती प्रार्थनापत्र प्रेषित करने शुरु कर दिये, तथा पीड़ित के विरुद्द भ्रामकता फैलाने तथा मुआवजे को रोकने का पूरा प्रयास किया, ताकि डर से प्रार्थी पुनः अवैध धनराशि दे दे और आरोपियों ने कहा कि यदि तूने हमारी मांग को पूरा नही किया तो, हम लोगो का राजनीतिक रसूख को तू जानता ही है और हमारे पास हमारे गुर्गो की फौज है, जो तुझे व तेरे परिवार को जीने नही देगी तथा हमारा परिवार मौके का इस पंचायत का प्रधान तो इस एनएच का मुआवजा तो रुकवा ही देगे, क्योकि हमारी एनएच अधिकारी से बहुत साठ- गाठ है, और तू देखना तेरा व तेरे परिवार का क्या हसर करते है मुआवजा तो भूल ही जा तू और गन्दी- गन्दी गाली गलौच व अपशब्द कर जान से मारने की धमकी देते रहे। शिकायतकर्ता की तहरीर पर थाना सहसपुर में मुकदमा दर्ज करते हुए पुलिस ने जांच शुरू कर दी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *