Thu. Feb 29th, 2024

एनीडेस्क एप डाउनलोड करवाकर की गयी थी लाखों की ठगी
चमोली। एनीडेस्क एप डाउनलोड करवाकर लाखों की ठगी करने वाले एक शातिर को पुलिस ने नक्सलवादी क्षेत्र काठीकुंड दुमका झारखंड से गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी का एक अन्य साथी फरार है जिसकी तलाश की जा रही है।
जानकारी के अनुसार बीती 14 सितम्बर को नंदन सिंह पुत्र गब्बर सिंह निवासी ग्राम पगना थाना नंदा नगर घाट द्वारा थाना नन्दानगर पर तहरीर देकर बताया गया था कि अज्ञात व्यक्तियों द्वारा 9 सितम्बर को उसके साथ बायजूस आनलाइन क्लास में पैसे रिफंड के बहाने एनीडेस्क एप डाउनलोड करवाकर कुल 6,20000 रुपए की ठगी कर ली गई है। मामले की गम्भीरता को देखते हुए पुलिस ने तत्काल मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी गयी। जांच करने वाली पुलिस टीम द्वारा सर्वप्रथम पीड़ित से विस्तृत पूछताछ उपरांत संबंधित बैंक 1.उत्तराखंड ग्रामीण बैंक, 2.एच.डी.एफ.सी बैंक व साइबर सेल गोपेश्वर से घटना के संबंध में महत्वपूर्ण साक्ष्य संकलित किए गए। साक्ष्य संकलन के दौरान प्रकाश में आया कि पीड़ित के 6 लाख 20 हजार रुपए दुमका झारखंड के दो खाते हमीद मियां निवासी काठीकुंड व हुसैन अंसारी निवासी काठीकुंड व मध्य प्रदेश ग्वालियर के एक खाते में ट्रांसफर हुए हैं। प्राप्त बैंक डिटेल व सर्विलांस के आधार पर पुलिस टीम दुमका झारखंड आई जहाँ से संबंधित एच.डी.एफ.सी बैंक व एस.बी.आई बैंक दुमका झारखंड से उन एटीएम की सीसीटीवी फुटेज निकाली गई जहां से 9 सितम्बर को पीड़ित के पैसे निकाले गये। जिसके उपरांत पुलिस टीम द्वारा थाना काठीकुंड दुमका झारखण्ड पुलिस की सहायता से पर्याप्त साक्ष्य के आधार पर प्रकाश में आये आरोपी हमीद पुत्र गफूर मिंया निवासी ग्राम बिछिया पहाड़ी थाना काठीकुंड को 14 दिसम्बर को गिरफ्तार कर लिया गया है। जिसको 15 दिसम्बर को न्यायालय दुमका के समक्ष 5 दिवस के ट्रांजिट रिमांड हेतु पेश किया गया। बाद ट्रांजिट रिमांड आरोपी हमीद जिसके खाते में पीड़ित के दो लाख दस हजार रुपए ट्रांसफर हुए थे, को जनपद चमोली लाकर संबंधित न्यायालय चमोली के समक्ष 18 दिसम्बर को न्यायिक रिमांड हेतु पेश किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *