Tue. Feb 27th, 2024

देहरादून। उत्तराखंड में नशे का मकड़जाल इस कदर फैल चुका है कि आए दिन कहीं न कहीं से तस्कर गिरफ्तार हो रहे हैं। ताजा मामला देहरादून और हरिद्वार से सामने आए हैं। जहां देहरादून में करीब आधा किलो चरस के साथ एक तस्कर गिरफ्तार हुआ है तो वहीं हरिद्वार के गंगनहर कोतवाली क्षेत्र से लाखों रुपए के नशीले इंजेक्शन के साथ एक अंतरराज्यीय नशा तस्कर पुलिस के हाथ लगा है। जिसके पास से करीब 550 नशीले इंजेक्शन बरामद हुए हैं। वहीं, अब दोनों तस्करों को कोर्ट में पेश कर आगे की कार्रवाई की जा रही है।
उत्तराखंड एसटीएफ की एएनटीएफ टीम (एंटी नारकोटिक्स टास्क फोर्स) ने गंगनहर कोतवाली पुलिस के साथ मिलकर एक तस्कर को पाडली गुज्जर रोड के पास से दबोचा है। आरोपी का नाम हसीन है, जो उत्तर प्रदेश के सहारनपुर का रहने वाला है। आरोपी के पास से लाखों रुपए की 550 प्रतिबंधित नशीले इंजेक्शन बरामद हुए हैं। एसटीएफ ने आरोपी के खिलाफ रानीपुर थाने में एनडीपीएस एक्ट के तहत मुकदमा पंजीकृत कराया है।
देहरादून के पटेल नगर थाना क्षेत्र में पुलिस ने एक तस्कर को दबोचा है। आरोपी के पास से 467 ग्राम चरस बरामद की गई है। पुलिस की मानें तो आरोपी का नाम दयाराम चौहान है। जो उत्तरकाशी का रहने वाला है। बताया जा रहा है कि आरोपी तस्कर चरस बेचने आया था, लेकिन पुलिस के हाथ आ गया।उत्तराखंड एसटीएफ एसएसपी आयुष अग्रवाल ने बताया कि एसटीएफ की एएनटीएफ टीम ने हरिद्वार और देहरादून में कार्रवाई करते हुए दो नशा तस्करों को गिरफ्तार किया है। दोनों आरोपियों के खिलाफ संबंधित थानों में एनडीपीएस एक्ट के तहत मुकदमा पंजीकृत कराया गया है। साथ ही एसटीएफ लगातार ड्रग्स फ्री देवभूमि अभियान के तहत अपनी कार्रवाई जारी रखेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *