Sun. May 19th, 2024

शिक्षा विभाग के अधिकारियों को दिए क्लस्टर स्कूलों के प्रस्ताव शीघ्र भेजने के निर्देश

कोटाबाग, कालाढूंगी सामुदायिक सेन्टरों में भेजी जाएगी नई 108 एम्बुलेंस

नैनीताल/देहरादून। प्रदेश के उच्च शिक्षा, विद्यालयी शिक्षा, संस्कृति शिक्षा, सहकारिता, चिकित्सा स्वास्थ्य एवं चिकित्सा शिक्षा मंत्री डा. धनसिंह रावत ने कालाढूगी सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र, कोटाबाग राजकीय महाविद्यालय के साथ ही बैलपडाव में पीएचसी सेन्टर का निरीक्षण के साथ ही राजकीय महाविद्यालय कोटाबाग में स्वास्थ्य, उच्च शिक्षा एवं माध्यमिक शिक्षा के अधिकारियों के साथ बैठक कर दिये दिशा निर्देश। इसके उपरान्त मंत्री डा0 रावत द्वारा सुशीला तिवारी चिकित्सालय में घायल मरीजो से मुलाकात के साथ ही उच्च शिक्षा निदेशालय गौलापार में अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की। मंत्री रावत ने राजकीय महाविद्यालय कोटाबाग में चाहरदीवारी, खेल प्रांगण के समतलीकरण एवं गेट बनाने कार्यों हेतु 5 करोड की धनराशि देने की घोषणा की।
डा0 रावत ने कहा कि कोटाबाग राजकीय महाविद्यालय में कृषि संकाय शीघ्र खोला जायेगा यह प्रदेश का प्रथम महाविद्यालय होगा। उन्होंने कहा आने वाले सत्र के लिए दो विषयो में एमए की कक्षायें प्रारम्भ की जायेंगी साथ ही यूजीसी के मानकों के अनुसार शीघ्र ही राजकीय महाविद्यालय में कृषि विषय की कक्षायें भी प्रारम्भ कर दी जायेगी। रावत ने राजकीय महाविद्यालय कोटाबाग में जलजीवन मिशन योजना के अन्तर्गत जलसंस्थान के अधिकारियों को प्राथमिकता के आधार पर महाविद्यालय में शीघ्र जलसंयोजन कराने के निर्देश दिये। उच्च शिक्षा विभाग की समीक्षा के दौरान डा0 रावत ने उच्च शिक्षा के प्राचार्य को निर्देश दिये कि बच्चों से संवाद कर उनकी आवश्कतानुसार कार्य को प्राथमिकता दें। उन्होने कहा सरकार द्वारा महाविद्यालयों को कार्यो हेतु जो बजट दिया जा रहा है प्राचार्य कार्यों की प्राथमिकता को देखते हुये कार्य करें। उन्होंने बैठक में निदेशक उच्च शिक्षा को निर्देश दिये कि राजकीय महाविद्यालय में कृषि विषय की कक्षायें प्रारम्भ करने हेतु शीघ्र प्रस्ताव बनायें ताकि आने वाले सत्र में कृषि विषय की कक्षायें प्रारम्भ हो सके। माध्यमिक शिक्षा की बैठक लेेते हुये डा0 रावत ने जिला शिक्षा अधिकारी नागेन्द्र बर्थवाल को निर्देश दिये कि जनपद में जीर्णशीर्ण विद्यालयों की सूची बनाकर ध्वस्तीकरण कराना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा जनपद में जितने भी विद्यालयों में फर्नीचर, प्रयोगशाला उपकरण,शौचालय के साथ ही पानी की समस्या है तो शीघ्र प्रस्ताव बनाने के निर्देश बैठक में दिये। इस अवसर पर क्षेत्रीय विधायक बंशीधर भगत, जिलाध्यक्ष प्रताप बिष्ट, सुरेश भटट,जोगा सिंह मेहरा,विनोद बधानी कमल बोरा, दीप ढौढियाल, यशपाल, विकास भगत,नवीन भटट के साथ ही अपर सचिव स्वास्थ्य नमामि बंसल, कुलपति प्रो0 दीवान सिंह रावत, निदेशक चिकित्सा डा0 तारा आर्या, निदेशक उच्च शिक्षा प्रो0 चन्द्र दत्त सूठा,सीएमओ डा0 भागीरथी जोशी, डा0 ऊषा जंगपांगी, प्राचार्य नवीन भगत के साथ ही जनप्रतिनिधि एवं अधिकारी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *