Thu. Feb 29th, 2024

उत्तराखंडी उत्पादों के लिए खुलेंगे वैश्विक दरवाजे

देहरादून। आगामी 12 जनवरी को ‘इंटरनेशनल कॉन्क्लेव कम बायर सेलर मीट’ का आयोजन किया जाएगा। इसका आयोजन कृषि और प्रसंस्कृत खाद्य उत्पाद निर्यात विकास प्राधिकरण (एपीडा) की ओर से किया जा रहा है। जिसे लेकर कृषि मंत्री गणेश जोशी ने अधिकारियों की बैठक ली। माना जा रहा है कि इस मीट के आयोजन से उत्तराखंड के उत्पादों के एक्सपोर्ट की संभावनाएं खुलेंगे।
कृषि मंत्री गणेश जोशी ने अधिकारियों के साथ सभी अहम विषयों पर विस्तार से चर्चा की। साथ ही उन्होंने अधिकारियों को 12 जनवरी को होने जा रहे अंतरराष्ट्रीय कॉन्क्लेव की रूपरेखा और सभी तैयारियां को समय सीमा के भीतर पूरा करने के निर्देश दिए। इसके अलावा उन्होंने अधिकारियों को कार्यक्रम को सुनियोजित ढंग और आपसी समन्वय बनाकर आयोजित करने को कहा।
श्दरअसल, उत्तराखंड के विभिन्न स्थानीय उत्पाद को निर्यात और प्रोत्साहित करने के साथ ही उत्पादकों के लिए अंतरराष्ट्रीय बाजार से संपर्क बढ़ाने के उद्देश्य इसका आयोजन किया जा रहा है। इस अंतरराष्ट्रीय कॉन्क्लेव में विभिन्न देशों के अंतरराष्ट्रीय खरीदार प्रतिभाग करेंगे। यह कॉन्क्लेव सहभागियों के बीच व्यापार और नेटवर्किंग के लिए एक उत्कृष्ट अवसर प्रदान करेगा।
 कॉन्क्लेव में टेक्निकल सेशन, विक्रेता और क्रेता के बीच संवाद, कृषि, उद्यान, जैविक बोर्ड, कैप समेत अन्य विभागों के स्टॉल भी लगाए जाएंगे। कार्यक्रम में किसान, एफपीओ, काश्तकार, कृषि वैज्ञानिक भी मौजूद रहेंगे। सत्र में मोटे अनाजों और इसके मूल्य वर्धित उत्पादों के पैकेजिंग और निर्यात क्षमता के विभिन्न पहलुओं पर चर्चा की जाएगी।
कृषि मंत्री गणेश जोशी ने कहा कि उत्तराखंड में कई ऐसे एफपीओ है, जो अच्छा कार्य कर रहे हैं। उनको विशेषकर आमंत्रित किया जाए। साथ ही कहा एपीडा भारत सरकार की ओर से आयोजित होने वाले कार्यशाला के माध्यम से निश्चित तौर पर प्रदेश के किसानों को लाभ मिलेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *