Sun. Apr 14th, 2024

देहरादून। तेज तर्रार एसएसपी अजय सिहं का खौफ अपराधियों के सिर चढ़कर बोल रहा है। जिसके चलते 16 साल से फरार वारंटी ईशान त्यागी ने न्यायालय में सरेंडर कर दिया है।  पुलिस की लगातार  हत्या के प्रयास के आरोपी की गिरफ्तारी के लिए दबिश दे रही थी।
वादी कैप्टन जेएस गिल ने थाना नेहरू कॉलोनी में सरदार भगवान सिंह पीजी बालावाला के अध्यक्ष एसप  सिंह पर ईशान त्यागी पुत्र चैधरी वीरेंद्र त्यागी तथा मौसम शर्मा पुत्र राम किशोर शर्मा ने जान से मारने की नीयत से गोली चलाने के संबंध में तहरीर दी थी, जिस पर वर्ष 2007 मे मुकदमा दर्ज किया गया था। घटना में दोनों आरोपियों के विरुद्ध वर्ष 2007 में न्यायालय में आरोप पत्र दाखिल किये गए थे। उसके बाद से दोनों लगातार फरार चल रहे थे, जिनमें विरुद्ध न्यायालय ने पूर्व में गैर जमानती वारेंट जारी किए गए थे, पूर्व में आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए दी गई दबिश के दौरान पुलिस टीम को जानकारी प्राप्त हुई थी कि अभियुक्त मौसम शर्मा की मार्च 2023 में मुजफ्फरनगर में एक सड़क दुर्घटना में मृत्यु हो गई थी, परंतु दूसरा आरोपी ईशान त्यागी अपनी गिरफ्तारी से बचने के लिए लगातार ठिकाने बदल रहा था।
वांछित आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने सभी थाना प्रभारियों को कड़े निर्देश निर्गत किये गए है, जिसके क्रम में थानाध्यक्ष नेहरू कॉलोनी ने वारण्टीयों की गिरफ्तारी के लिए अलग-अलग पुलिस टीमों का गठन किया गया। गठित पुलिस टीम ने आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए मुजफ्फरनगर स्थित उसके घर तथा अन्य संभावित ठिकानों पर लगातार दबिशें दी गई, पुलिस की जा रही लगातार कार्रवाई से आरोपी ने गिरफ्तारी के डर से 16 वर्ष बाद न्यायालय एसीजीएम द्वितीय देहरादून के समक्ष आत्मसमर्पण किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *