Thu. Feb 29th, 2024

पुलिस ने गिरफ्तार कर भेजा जेल

पिथौरागढ़। भारतीय सेना में नौकरी लगवाने के नाम पर फर्जी नियुक्ति प्रमाण पत्र देकर लोगों से लाखों रुपयों की धोखाधड़ी करने वाले व्यक्ति को पिथौरागढ़ पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। इस मामले में पीड़ित ने पिछले साल 31 अक्टूबर को पुलिस को तहरीर दी थी, जिसके बाद ही ये मामला सामने आया।
पुलिस ने बताया कि हिमांशु कुमार निवासी गांव ग्वेता थाना कनालीछीना जिला पिथौरागढ़ ने पुलिस कार्यालय पिथौरागढ़ में तहरीर दी थी। तहरीर में पीड़ित हिमांशु कुमार ने बताया कि धारचूला क्षेत्र का रहने वाला देवेंद्र कुमार, जो 8 वीं कुमाऊं रेजीमेन्ट में तैनात था और वर्तमान में सेवानिवृत्त हो चुका है, उससे उसका संपर्क हुआ था।
आरोप है कि देवेंद्र कुमार ने हिमांशु कुमार को भारतीय सेना में नौकरी दिलाने का झांसा दिया था, जिसके लिए उसने साढे पांच लाख रुपए भी लिए थे। इतना ही नहीं आरोपी ने हिमांशु कुमार को सेना का फर्जी नियुक्ति प्रमाण पत्र भी दे दिया था। हालांकि जब हिमांशु कुमार को अपने साथ ही हुई ठगी का पता चला तो उसने पुलिस अधीक्षक पिथौरागढ़ लोकेश्वर सिंह को तहरीर दी। पुलिस अधीक्षक पिथौरागढ़ लोकेश्वर सिंह के आदेश पर देवेन्द्र कुमार के खिलाफ कनालीछीना थाने में मुकदमा दर्ज किया गया।
इस पूरे केस की जांच अपर उनि जगत सिंह रौंकली ने की। पुलिस जांच में सामने आया कि आरोपी देवेन्द्र कुमार ने जिले के अन्य लोगों को भी इसी तरह ठगा है और उनसे लाखों रुपए की ठगी की है। इसके बाद आरोपी के खिलाफ पिथौरागढ़ जिले के जाजरदेवल और बलुवाकोट में भी मुकदमा दर्ज किया गया। मुकदमा दर्ज होने के बाद से ही आरोपी फरार चल रहा था, जिसे पुलिस ने आज सोमवार आठ जनवरी को धारचूला से गिरफ्तार किया।पुलिस की जांच में सामने आया कि आरोपी ने जिलेभर में करीब 65 लाख रुपए की ठगी की है। पुलिस ने बताया कि आरोपी अपने साथ वालों को पहले भरोस में लेता था, फिर उन्हें भारतीय सेना में नौकरी दिलवाने का झांसा देता था और आखिर में आर्मी की मुहर लगाकर उन्हें फर्जी नियुक्ति प्रमाण पत्र दे देता था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *