Sun. Jun 16th, 2024

औली और हर्षिल में भी बढ़ी पर्यटकों की भीड़
देहरादून। थर्टी फर्स्ट और न्यू ईयर सेलिब्रेशन के लिए उत्तराखंड के पर्यटन स्थलों पर पर्यटकों की भीड़ जुट चुकी है। 5 दिन पहले ही नैनीताल, मसूरी, धनौल्टी, चकराता, चोपता, कौसानी और औली जैसे स्थलों पर होटल और होम स्टे पैक हो चुके हैं। कई जगह सैलानियों की भारी तादाद के कारण जाम की स्थिति भी नजर आ रही है। बताया जा रहा है हिमाचल प्रदेश के मनाली और शिमला में जाम के कारण पर्यटक अब उत्तराखंड की खूबसूरत वादियों की तरफ रुख कर रहे हैं।
उत्तराखंड में सबसे अधिक पर्यटक नए साल के जश्न के लिए नैनीताल, मसूरी और धनौल्टी के साथ-साथ पिथौरागढ़ और अल्मोड़ा के कई छोटे-छोटे पर्यटन स्थलों पर पहुंचते हैं। पहाड़ों में बर्फबारी से उत्तराखंड का मौसम भी बेहद ठंडा हो चुका है। उम्मीद यही जताई जा रही है कि नए साल के मौके पर कई इलाकों में पर्यटकों को बर्फबारी का आनंद भी मिल सकेगा। ये कहना गलत भी नहीं है कि नए साल के जश्न के लिए पर्यटकों की पहली पसंद नैनीताल भी बन रहा है। नैनीताल में नए साल का जश्न मनाने के लिए हर साल पर्यटकों की भीड़ उमड़ती है।नैनीताल में रुकने की बात की जाए तो 3 हजार से 25 हजार का तक का होटल में कमरा मिल सकता है। नैनीताल के होटल कारोबारी कमल जगाती बताते हैं कि नैनीताल में 570 होटल$ होम स्टे हैं। जिसमें 15 हजार से अधिक पर्यटक रुक सकते हैं। नए साल के लिए अभी से 70 फीसदी होटल और होम स्टे पूरी तरह से बुक हो चुके हैं। होटल कारोबारी ने अपने होटल और दूसरे व्यवसाय को मौजूद भीड़ के तहत अपग्रेड भी किया है। इस बार नए साल के मौके पर नैनीताल और आसपास के क्षेत्र में आने वाले पर्यटकों को बहुत कुछ नया देखने के लिए मिलेगा। कमल बताते हैं कि होटल में लाइव सिंगिंग पार्टी और रंगारंग कई तरह के कार्यक्रम ऑर्गेनाइज किए हैं। नैनीताल प्रशासन भी चाहता है कि नैनीताल में पर्यटक शांति और खुशनुमा माहौल में नए साल का आगाज करे।


मसूरी में नए साल का डबल मजा
बात अगर मसूरी की करें तो मसूरी में 27 दिसंबर से विंटर कार्निवल शुरू हो रहा है। ऐसे में मसूरी में आने वाले पर्यटकों की संख्या भी लगातार बढ़ती जा रही है। मसूरी और नैनीताल जैसे पर्यटन स्थलों में सबसे अधिक समस्या जाम की रहती है। ऐसे में मसूरी के लिए 2 हजार गाड़ियों की पार्किंग की व्यवस्था कई जगहों पर की गई है। इसके साथ ही मसूरी में 312 होटल हैं जिसमें लगभग 6500 लोगों के रुकने की व्यवस्था है। मसूरी से लगता पर्यटन स्थल धनौल्टी भी पर्यटकों की पसंदीदा जगह है। मसूरी और धनौल्टी में 80 प्रतिशत होटल की बुकिंग पूरी हो चुकी है। पर्यकों ने एडवांस में अपने होटल की बुकिंग कर ली है।

चमोली के लिए बढ़ा पर्यटकों का रुझान
 हैरानी की बात यह है कि चमोली में क्रिसमस से पहले ही पूरी तरह से होटल बुक हो चुके हैं। जो पर्यटक औली में नए साल का आगाज करना चाहते हैं। उन्होंने भी दो से तीन दिन पहले ही होटल और गेस्ट हाउस की बुकिंग करवा ली है। चमोली इस समय बेहद ठंड है। औली और जोशीमठ में पर्यटकों का जमावड़ा लगता है। यहां भी पर्यटकों को 4 से 5 हजार में होटल में कमरा मिलता है। उधर उत्तरकाशी के हर्षिल में भी नए साल पर बर्फबारी होने की संभावना है। ऐसे में पर्यटक हर्षिल की तरफ भी रुख कर रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *