Tue. May 28th, 2024

श्रद्धालुओं ने जमकर उठाया लुत्फ, गंगोत्री में भी बढ़ी ठंड

उत्तरकाशी। जिले में शुक्रवार को मौसम ने अचानक करवट बदली। दोपहर बाद यमुनोत्री धाम परिसर सहित उच्च हिमालय क्षेत्र में बर्फबारी हुई। जिसका श्रद्धालुओं ने जमकर लुत्फ उठाया। गंगोत्री धाम में भी ठंड का प्रकोप बढ़ता जा रहा है। धाम में भागीरथी(गंगा) नदी का जल जमने लगा है। यहां रात्रि का तापमान माइनस 6 से 7 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच रहा है। सुबह और शाम को हाड़ कंपाने वाली ठंड पड़ रही है।गंगोत्री धाम के कपाट बंद होने में अभी पांच दिन समय शेष हैं।
शुक्रवार को जिला मुख्यालय सहित आसपास के क्षेत्रों में सुबह से ही आसमान ने काले घने बादल छाए रहे। वहीं उच्च हिमालय क्षेत्र सहित यमुनोत्री धाम में बर्फबारी देखने को मिली। इससे जिले में ठंड बढ़ गई है। जिससे बचने के लिए लोगों ने गर्म कपड़े व हीटर का सहारा लेना शुरू कर दिया है। यमुनोत्री धाम सहित आसपास के इलाकों में बर्फबारी हुई। यमुना के मायके खरसालीगांव, जानकीचट्टी, नारायण पुरी, फूलचट्टी, हनुमानचट्टी क्षेत्र में बारिश व बड़कोट क्षेत्र में बारिश का मौसम बना हुआ है। यमुनोत्री धाम के तीर्थपुरोहित पुरूषोत्तम उनियाल ने बताया धाम में काफी देर तक बर्फबारी हुई। जिससे धाम में ठंड बढ़ गई है। धाम पहुंचे तीर्थ यात्रियों ने बर्फबारी का खुब लुत्फ उठाया।
चारधामों में प्रसिद्ध गंगोत्री धाम की कपाटबंदी में अब गिनती के दिन शेष रह गए हैं। शीतकाल के लिए 14 नवंबर को धाम के कपाट बंद कर दिए जाएंगे। यहां कपाटबंदी से पहले ही ठंड का प्रकोप बढ़ता जा रहा है। दिन में जहां अधिकतम तापमान 10 से 12 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया जा रहा है तो वहीं रात्रि के समय यह -6 से 7 डिग्री तक लुढ़क रहा है। जिससे भागीरथी घाट के किनारों पर जमा पानी जमने लगा है। नलों से आने वाला पानी भी जम रहा है। तीर्थपुरोहित रजत सेमवाल, राजेश सेमवाल ने बताया सुबह और शाम के समय धाम में काफी ठंड रहती है। रात्रि के समय तापमान माइनस में पहुंच रहा है। दोपहर के समय थोड़ी धूप निकलने से कुछ राहत मिलती है, लेकिन धूप के जाते ही हाड़ कंपाने वाली ठंड महसूस की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *