Sun. May 19th, 2024

देहरादून। उत्तराखंड में लगातार बढ़ रहे गुलदार के हमलों को देखते हुए वन विभाग भी अलर्ट मोड पर है। खूद प्रदेश की राजधानी देहरादून के शहरी क्षेत्रों में भी अब लगातार गुलादार देखे जाने के मामले सामने आ रहे है। जिसे देखते हुए  मंगलवार को प्रमुख वन संरक्षक अनूप मालिक ने सभी डीएफओ को बैठक ली।
आयोजित बैठक में उन्होंने मानव वन्यजीव संघर्ष को रोकने के लिए नई रणनीति बनाने के निर्देश दिए। साथ ही सभी डीएफओ को हिदायत भी दी कि सभी जल्द से जल्द इस पर काम करें।बता दें कि बीस दिन में देहरादून में गुलदार के हमले की दो घटनाएं होने के बाद पुलिस और वन विभाग भी चौकन्ना है। राजपुर और रायुपर थाना की पुलिस अलग-अलग पेट्रोलिंग वाहनों से लाउडस्पीकर से लोगों को अलर्ट कर रही है। यहां यह भी गौर करने वाली बात सामने आ रही है कि सर्दियों में जल्दी दृश्यता कम होने पर पहाड़ी क्षेत्रों में इसका पूरा लाभ गुलदार उठाता है। शाम से ही आवाजाही कम होने पर गुलदार पूरी तरह बेखौफ हो जाता है और गांवों की परिधि में दाखिल होकर बच्चों और जानवरों को आसानी से शिकार करने का दुस्साहस कर लेता है।
उत्तराखंड के जंगलों में पहले ही गुलदारों की संख्या बढ़ती जा रही है। इसलिए गुलदारों के सामने शिकार करने की आए दिन चुनौती रहती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *