Sat. Jun 22nd, 2024

मकान के निर्माण के लिए पोंटा से मंगवाना चाह रहा था धुली बजरी

देहरादून। खुद को आईपीएस अधिकारी बताकर अवैध खनन के दम पर पार करने वाले एक अभियुक्त को विकास नगर पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। उ0नि0 प्रवीण सैनी, चौकी प्रभारी ने बताया कि मेरे मोबाइल पर एक व्यक्ति ने अपने मोबाइल नंबर से कॉल कर अपने आपको एक आई०पी०एस० अधिकारी बताकर पोंटा साहिब, हिमाचल की ओर से 05-06 डंफर अवैध प्रतिबंधित खनन सामग्री धुली बजरी भिजवाने के लिए कहा बातचीत करते हुए चौकी प्रभारी को उसकी बात पर शक सा हुआ व्यक्ति के मोबाइल नम्बर की आईडी चैक की गई तो आईडी किसी अन्य व्यक्ति के नाम पर पाई गई। चौकी प्रभारी अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू की पर संदेह होने जांच के दौरान अभियुक्त के नंबर को सर्विलांस पर लगवाया गया सर्विलांस की मदत से अभियुक्त को उसके देहरादून स्थित केनाल रोड से गिरफ्तार किया गया तथा अभियुक्त से आई-10 कार नंबर: डीएल-10सीएच-5770 को सीज कर कब्जे पुलिस लिया गया। अभियुक्त की तलाशी में उसके पास से 02 मोबाइल फोन बरामद हुए जिनमें से एक फोन के माध्यम से अभियुक्त द्वारा स्वंय को आई0पी0एस0 अधिकारी बताकर कॉल किया गया था। अभियुक्त की पहचान तारिक अनवर पुत्र स्व० जयाउद्दीन निवासी ग्राम फेनारा, थाना फेनारा, जिला ईस्ट चंपारण, बिहार हाल पता मकान नंबर 209/16 शाहीनबाग, दिल्ली उम्र 39 वर्ष के रूप मैं हुई पूछताछ के दोरान अभियुक्त ने बताया गया कि मैं दिल्ली में गारमेंट व हैंडीक्राफ्ट का व्यवसाय करता हूं तथा मैने केनाल रोड स्थित चालांग में अपनी पत्नी के नाम पर जमीन खरीदी है। मुझे उक्त जमीन पर निर्माण कार्य हेतु हिमांचल से आने वाली धुली बजरी की जरूरत थी, परन्तु बार्डर पर पुलिस की बहुत ज्यादा सख्ती/चैकिंग होने के कारण मुझे कही से भी पोंटासाहिब हिमाचल की और से आने वाली धुली बजरी नहीं मिल पा रही थी। जिस पर मैंने पुलिस विभाग का बड़ा अधिकारी बनकर अपना काम निकाले जाने की योजना बनाई तथा स्वंय को आईपीएस अधिकारी बताकर 05-06 डंफर अवैध प्रतिबंधित खनन सामग्री धुली बजरी सस्ते दाम पर भिजवाने हेतु चौकी प्रभारी कुल्हाल को अपने मोबाइल नंबर से कॉल कर दबाव डाला गया फिलहाल पुलिस ने अभियुक्त के खिलाफ संबंधित धाराओं में मुकदमा दर्ज कर अभी उसको जेल भेज दिया

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *