Sun. May 19th, 2024

पिथौरागढ़। उत्तराखंड के पिथौरागढ़ जनपद से दुखद खबर सामने आ रही है। यहां धारचूला-गुंजी मोटर मार्ग पर गर्बाधार के समीप आदि कैलाश यात्रियों को ला रही यात्री जीप 500 मीटर गहरी खाई में गिर गई। जीप में चालक सहित छह यात्री सवार थे। इस हादसे में सभी की मौत हो गई है। इनमें चार लोग बेंगलुरू के बताए जा रहे हैं। मुख्यमंत्री धामी ने हादसे पर दुख प्रकट किया है।
मिली जानकारी के अनुसार आदि कैलाश यात्रियों को लेकर धारचूला की ओर लौट रही जीप मंगलवार को करीब ढाई बजे गर्बाधार के पास 500 मीटर गहरी खाई में गिर गई। सूचना पर धारचूला, पांगला थानों से पुलिस और एसडीआरएफ की टीम मौके के लिए रवाना हुई। इसी दौरान क्षेत्र में बारिश होने से पहाड़ी से पत्थर गिरने लगे। इसके चलते जवान रेस्क्यू के लिए खाई में नहीं उतर सके। फिर तलाश अभियान आज सवेरे शुरू हुआ है।
दुर्घटनाग्रस्त जीप में जिन लोगों के सवार होने की बात कही जा रही है उनके नामों की सूची पुलिस को आईटीबीपी से मिली है। इस सूची के अनुसार जीप में बैंगलुरू निवासी आदि कैलाश यात्री सत्यवर्धा परीधा उम्र 59 वर्ष, नीलापा आनंद, मनीष मिश्रा और प्रज्ञा वारसम्या सवार थे जबकि जीप में सवार हिमांशु कुमार और वीरेंद्र कुमार स्थानीय थे।
घटना की सूचना के बाद मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने राहत और बचाव को व्यापक रूप से चलने के निर्देश दिए हैं तथा उन्होंने धारचूला-लिपुलेख सड़क मार्ग पर लखनपुर के समीप सड़क दुर्घटना पर शोक व्यक्त करते हुए दिवंगत आत्माओं की शांति और शोक संतप्त परिजनों को धैर्य प्रदान करने की ईश्वर से प्रार्थना की है। बताया जाता है कि वाहन संख्या यूके 04 टीबी 2734 गुंजी से धारचूला जाते समय तंपा मंदिर के पास गहरी खाई में गिर गया। जिसमे सवार 6 लोगों की मौत हो गई।
प्राप्त जानकारी के अनुसार पिथौरागढ़ के लखनपुर के पास यात्रियों से भरी बोलेरो काली नदी में समाई जिसमें सवार 6 लोगों की मौत हो गई। बोलोरो में सवार सभी यात्री आदि कैलाश के दर्शन कर लौट रहे थे। बताया जा रहा है बरसात और मौसम खराब होने के अलावा अंधेरा होने के चलते रेस्क्यू ऑपरेशन में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है जिसके चलते रेस्क्यू अभियान सुबह तक के लिए टाल दिया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *