Mon. Mar 4th, 2024

डॉक्टरों ने इलाज के लिए किया हायर सेंटर रेफर
श्रीनगर। उत्तराखंड के चर्चित अंकिता भंडारी हत्याकांड के मुख्य आरोपी पुलकित आर्य को आज शुक्रवार दो फरवरी को पुलिस कड़ी सुरक्षा के बीच जेल से बेस हॉस्पिटल श्रीनगर लेकर पहुंची। बताया जा रहा है कि बेस हॉस्पिटल श्रीनगर में पुलकित आर्य का मनोरोग विभाग के डॉक्टरों ने एग्जामिन किया।
पुलिस के अनुसार कुछ समय से पुलकित आर्य को तनाव की शिकायत थी, जिसके चलते शुक्रवार को उसे चमोली की पुलसारी जेल से बेस हॉस्पिटल श्रीनगर लाया गया, जहां डॉक्टरों ने उसका चेकअप किया, जिसके बाद डॉक्टरों ने पुलकित आर्य को हायर सेंटर रेफर कर दिया। डॉक्टरों ने पुलकित आर्य को क्लिनिकल साइकोलॉजिस्ट को दिखाने की सलाह दी है।
बेस हॉस्पिटल श्रीनगर के एमएस डॉक्टर अजय बिक्रम सिंह ने बताया कि पुलकित आर्य को मनोरोग संबधी परेशान हो रही थी, जिसके चलते पुलिस उसे बेस हॉस्पिटल श्रीनगर लेकर आई थी। यहां डॉक्टरों ने पुलकित की हालत को देखते हुए उसे क्लिनिकल साइकोलॉजिस्ट को दिखाने का सुझाव दिया और उसी आधार पर उसे हायर सेंटर रेफर कर दिया।
बता दें कि पौड़ी जिले के श्रीकोट डोभ की रहने वाली अंकिता भंडारी यमकेश्वर क्षेत्र स्थित वनंत्रा रिसॉर्ट में रिसेप्शनिस्ट की नौकरी करती थीं, जो 18 सितंबर 2022 को अचानक वनंत्रा रिजॉर्ट से लापता हो गई थी। इसके बाद वनंत्रा रिजॉर्ट के मालिक पुलकित आर्य ने अंकिता के परिजनों को गुमराह करने के लिए गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई। करीब एक हफ्ते बाद यानी 24 सितंबर को अंकिता भंडारी का शव चीला नहर से बरामद हुआ था।
पुलकित आर्य और उसके दो साथी अंकित गुप्ता व सौरभ भास्कर पर आरोप है कि तीनों ने अंकिता को चीला नहर में धक्का देकर मार डाला। पुलकित आर्य पर आरोप है कि वो अंकिता भंडारी से रिजॉर्ट में गलत काम करवाना चाहता था, जिस पर अंकिता भंडारी ने साफ इनकार कर दिया था। इसी वजह से पुलकित आर्य ने अंकिता को मार दिया था। इस मामले में लगातार सुनवाई चल रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *