Sun. Apr 14th, 2024

कॉलेज गेट पर दिया धरना

डीएवी पीजी कॉलेज प्रबंधन पर लगाया लापरवाही का आरोप
देहरादून। डीएवी पीजी कॉलेज की दीवार गिरने से बीते देर रात 22 वर्षीय सुष्मिता तोमर की मौत हो गई थी, इसके बाद से छात्र संगठनों में कॉलेज प्रबंधन के खिलाफ व्याप्त आक्रोश है। इस घटना के विरोध में एनएसयूआई, आर्यन ग्रुप ने मानसिंह वाला स्थित प्राचार्य डॉक्टर आरके जैन के आवास के बाहर धरना देते हुए अपना आक्रोश जताया।
उधर एबीवीपी कार्यकर्ता छात्र संघ अध्यक्ष दयाल बिष्ट के नेतृत्व में रात से ही डीएवी पीजी कॉलेज गेट पर सांकेतिक धरने पर बैठ गए हैं। छात्र संगठन ने इस हादसे में मारी गई युवती के परिजनों को उचित मुआवजा दिए जाने की मांग उठाई है। छात्र संघ अध्यक्ष दयाल बिष्ट का कहना है कि कॉलेज की जर्जर दीवार को लेकर कई बार कॉलेज प्रबंधन को अवगत कराया गया, लेकिन प्रबंधन ने कोई सुध नहीं ली गई। उन्होंने यह भी बताया कि कॉलेज कैंपस के अलग-अलग विभाग के भवन जर्जर अवस्था में हैं, ऐसे में भविष्य में कभी भी कोई भी हादसा हो सकता है। लेकिन प्रबंधन जर्जर भवनों को ठीक नहीं कर रहा है। उन्होंने मांग की है कि जब तक शासन और प्रशासन व प्राचार्य के माध्यम से उन्हें उचित आश्वासन नहीं मिलता है, तब तक वह कॉलेज के गेट से नहीं उठेंगे।
बता दें कि सुष्मिता तोमर की एक माह पूर्व राजकीय महाविद्यालय पुरोला में कनिष्ठ सहायक पद पर जॉइनिंग हुई थी और वह देहरादून के इंस्टीट्यूट से बीएड कर रही थी। बीते रोज नौकरी मिलने की खुशी में वह अपने भाई के साथ डीएल रोड स्थित कोचिंग सेंटर के स्टाफ को मिठाई खिलाने के बाद लौट रही थी। इसी बीच यह हादसा हो गया और कॉलेज कैंपस के पीछे स्थित मानसिंह वाला रोड की जर्जर दीवार भरभराकर युवती और उसके भाई के ऊपर गिर पड़ी। इस घटना में युवती की मौत के बाद छात्र संगठनों में कॉलेज प्रबंधन के खिलाफ गुस्सा देखने को मिल रहा है। एबीवीपी छात्र संगठन कॉलेज के मुख्य गेट पर धरने पर बैठ गए हैं और उचित कार्रवाई की मांग उठा रहे हैं। छात्रों का कहना है कि जब तक उनकी मांग नहीं मानी जाती है तब तक वह कॉलेज नहीं खुलने देंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *