Tue. Feb 27th, 2024

यात्रियों को करना पड़ा परेशानियों का सामना
सोमवार से बुधवार तक नहीं चलेंगी टैक्सियां
ऑल इंडिया मोटर ट्रांसपोर्ट यूनियन कांग्रेस ने तीन दिनी देशव्यापी हड़ताल का किया एलान


देहरादून। हिट एंड नए केस में नए कानून के विरोध में सोमवार को रोडवेज बस चालक हड़ताल पर चले गए। चालकों ने प्रदर्शन कर नए कानून का विरोध किया। जिसका असर  राजधानी देहरादून के साथ-साथ प्रदेश के अन्य जनपदों व कुमायू के रामनगर, हल्द्वानी में भी देखने को मिल रहा है। हड़ताल की वजह से यात्रियों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। बता दें कि, हिट एंड रन केस के नए प्रावधान को लेकर ट्रांसपोर्ट नगर व्यापारी एसोसिएशन ने केंद्र सरकार की ओर से लागू नए प्रावधान को लेकर नाराजगी जताई और विरोध में प्रदर्शन भी किया। सरकार से इस प्रस्तावित कानून पर पुनः विचार करने की मांग की गई।
केंद्रीय मंत्रीमंडल ने वाहन से दुर्घटना होने पर चालक को 10 वर्ष का करावास और पांच लाख अर्थदंड वसूलने के नए प्रावधान के विरोध में ऑल इंडिया मोटर ट्रांसपोर्ट यूनियन कांग्रेस ने तीन दिनी देशव्यापी हड़ताल का एलान किया है। महासंघ टैक्सी यूनियन कुमाऊं मंडल ने भी सोमवार से होने वाली हड़ताल को समर्थन दिया है। ऐसे में सोमवार से बुधवार तक टैक्सियां नहीं चलेंगी।
महासंघ टैक्सी यूनियन कुमाऊं मंडल के अध्यक्ष ठाकुर सिंह बिष्ट ने कहा कि देशव्यापी हड़ताल का यूनियन समर्थन करती है। कहा कि एक जनवरी 2024 से तीन जनवरी तक तीन दिनी देशव्यापी हड़ताल को केमू समेत अन्य का समर्थन है। कुमाऊं टैक्सी महासंघ भी इस बंद का पूर्ण समर्थन करता है। उन्होंने समस्त विभागों में अधिग्रहित व्यावसायिक वाहन चालकोंध्मालिकों से अनुरोध किया है कि वह भी इस बंद में अपना पूर्ण समर्थन दें।



बाहर से आने वाले वाहन रोके,पुलिस ने बरसाए लट्ठ
देहरादून। ट्रांसपोर्टर की हड़ताल से ज्यादातर निजी बस, टैक्सी, मैक्सी, ट्रेवलर, विक्रम आदि हड़ताल पर हैं। ट्रांसपोर्टर केंद्र सरकार के खिलाफ जगह-जगह प्रदर्शन कर रहे हैं। इससे यात्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा।
हड़ताल के क्रम में बाहर से आने वाले वाहनों को ऑटो व टैक्सी चालकों ने आइएसबीटी के पास मुस्कान चौराहे पर रोक दिया, जिससे वहां पर काफी भीड़ लग गई। मौके पर पहुंची पुलिस से प्रदर्शनकारियों की नोकझोंक हुई। इसके बाद भीड़ को तितर बितर करने के लिए पुलिस ने प्रदर्शनकारियों पर डंडे बरसाए। एमडी टैक्सी सर्विस से संचालक फरहाद ने बताया कि मामला बढ़ता देख कुछ प्रदर्शनकारियों को पुलिस आइएसबीटी थाने ले गई।

हरिद्वार में भी परेशान दिखे यात्री
हरिद्वार में भी ड्राइवर यूनियन के विरोध के कारण लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ा। धर्मनगर हरिद्वार में भी इसका खासा असर देखने को मिल रहा है। नए साल के पहले दिन हरिद्वार नया साल मनाने पहुंचे श्रद्धालुओं को खासी दिक्कत का सामना करना पड़ा। लोगों ने कहा उन्हें किसी भी तरह की पूर्व सूचना नहीं थी। अब उनके लिए घर पहुंचना मुश्किल हो रहा है। नए ट्रैफिक कानून के विरोध में आज चालक परिचालक संघ की देशव्यापी हड़ताल है। हरिद्वार में भी हड़ताल का खासा असर देखने को मिला। ऑटो, टैक्सी और यहां तक की प्राइवेट और सरकारी बसों के पहिए भी जाम रहे। ट्रांसपोर्ट महासंघ के अध्यक्ष ने केंद्र सरकार द्वारा बनाए गए नए ट्रैफिक कानून को गलत बताया। उन्होंने कहा सरकार से एक बार फिर से इस कानून पर पुनर्विचार करने की मांग की।


दून में पब्लिक ट्रांसपोर्ट के स्टैंडों पर दिखी भीड़
साल 2024 का पहला दिन देहरादून के आम लोगों के लिए मुश्किल भरा रहा। दरअसल, देहरादून में विक्रम और मैजिक जैसे पब्लिक ट्रांसपोर्ट की हड़ताल के चलते लोगों को आवाजाही में बड़ी परेशानियां रही। घंटों लोग इंतजार करते रहे। पब्लिक ट्रांसपोर्ट के स्टैंडों पर लोगों की भीड़ लगी रही। नये साल पर देहरादून घूमने आये पर्यटक भी पब्लिक ट्रांसपोर्ट न मिलने के कारण परेशान दिखे। दरअसल, देहरादून में विक्रम और दूसरे पब्लिक ट्रांसपोर्ट पर ज्यादातर लोग सफर करते हैं। देहरादून शहर के भीतर करीब एक हजार विक्रम और मैजिक व अन्य वाहन चलते हैं। ये ही आवाजाही के प्रमुख साधन हैं। ऐसे में हड़ताल के चलते आम लोगों की मुश्किलें बढ़ गई हैं। बातचीत में विक्रम चालक दीपक वर्मा ने बताया केंद्र सरकार ने जो कानून लागू किया है उसको लेकर उनमें नाराजगी है। इस पर सरकार विचार करे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *