Mon. Apr 22nd, 2024

जमकर हुई धक्का-मुक्की, कई को लिया हिरासत
युवा कांग्रेस का खाता सीज होने का जताया विरोध
देहरादून। नेशनल स्टूडेंट यूनियन ऑफ इंडिया (एनएसयूआई) के कार्यकर्ताओं और पुलिस के बीच आज भिड़ंत हो गई। एनएसयूआई के कार्यकर्ता देहरादून में उत्तराखंड भाजपा दफ्तर के आगे प्रदर्शन के लिए जाने वाले थे। लेकिन भारी संख्या में पुलिस ने कार्यकर्ताओं को कार्यालय से पहले ही घेर लिया। इस दौरान पुलिस और कार्यकर्ताओं के बीच जमकर धक्का-मुक्की शुरू हो गई। कार्यकर्ता जैसे ही बेरिकैडिंग के पास पहुंचे पुलिस ने कार्यकर्ताओं से पुतला छीनना शुरू कर दिया। इसी छीना झपटी में कई लोगों को चोटें भी आई। इसके बाद पुलिस ने युवाओं को हिरासत में लिया।
उत्तराखंड भाजपा दफ्तर के पास फव्वारा चैक पर शनिवार को पुलिस और एनएसयूआई कार्यकर्ता आमने-सामने आ गए। खास बात यह है कि एनएसयूआई कार्यकर्ता, कांग्रेस के खाता सीज किए जाने के विरोध में मोदी सरकार का पुतला फूंकना चाहते थे। लेकिन पुलिस इन्हें पुतला फूंकने से रोक रही थी। जैसे ही कार्यकर्ता बैरिकेडिंग के पास पहुंचे, पुलिस ने उनसे पुतला छीनना शुरू कर दिया। इसके बाद मौके पर धक्का मुक्की शुरू हो गई। पुलिस ने इस दौरान हल्का बल प्रयोग करते हुए कार्यकर्ताओं को खदेड़ना शुरू कर दिया। पुलिस ने युवाओं से पुतला भी छीन लिया। इसके बाद युवा बैरिकेडिंग की तरफ बढ़ने लगे तो पुलिस ने युवाओं को हिरासत में लेने की कार्रवाई शुरू कर दी।
इस दौरान कई कार्यकर्ता सड़कों पर गिर गए। पुलिस ने इन कार्यकर्ताओं को उठाकर गाड़ियों में भरना शुरू किया और कई युवाओं को हिरासत में लिया। इन सभी युवाओं को थाने में बिठाया गया, जिसके बाद कांग्रेस पार्टी के नेताओं ने भी पुलिस से बात करनी शुरू कर दी और युवाओं के साथ इस व्यवहार पर अपनी नाराजगी जताई। पार्टी की प्रदेश प्रवक्ता गरिमा दसौनी ने कहा कि युवाओं के साथ गलत व्यवहार किया गया है। इससे पता चलता है कि सरकार ने कैसे सरकारी तंत्र को युवाओं का दमन करने के लिए लगाया हुआ है।
आज देहरादून समेत कई जगहों पर इस तरह के प्रदर्शन हुए। लेकिन एनएसयूआई के इस प्रदर्शन के दौरान हुई झड़प सभी जगह चर्चा का विषय बनी रही। पार्टी के नेता पुलिस की कार्रवाई पर खासे खफा दिखाई दिए। इस दौरान जिलाध्यक्ष प्रकाश नेगी, पूर्व महानगर महासचिव हरजोत सिंह, एनएसयूआई ब्लॉक अध्यक्ष सक्षम यादव व प्रांजल ने गिरफ्तारी दी। जिसके बाद उन्हे डालनवाला कोतवाली लाया गया। एनएसयूआई जिलाध्यक्ष प्रकाश नेगी के नेतृत्व में आज एनएसयूआई कार्यकर्ताओं ने कांग्रेस के बैंक अकांउट फ्रीज करने के विरोध में भाजपा प्रदेश कार्यालय कूच किया गया। जिन्हे पुलिस द्वारा बैरकेडिंग कर फाउण्टेन चैक पर रोक दिया गया। इस पर एनएसयूआई कार्यकर्ताओं द्वारा वहीं पर सरकार का पुतला जलाने का प्रयास किया गया। जिन्हे पुलिस द्वारा रोके जाने पर उनकी पुलिस के साथ झड़प भी हो गयी। जिसमें जिलाध्यक्ष प्रकाश नेगी सहित अन्य कार्यकर्ताओं को गंभीर चोटें आई है।
जहां पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत, हीरा सिंह बिष्ट, मुख्य प्रवक्ता गरिमा मेहरा दसौनी, अनिल नेगी, महिला कांग्रेस से नजमा खान, आशा मनोरमा डोबरियाल एवं निधि नेगी चोटिल युवाओं का हाल पूछने डालनवाला कोतवाली पहुंचे जहां एनएसयूआई युवाओं को औपचारिकताओं के बाद पुलिस प्रशासन द्वारा रिहा कर दिया गया।


कांग्रेस के खाते फ्रीज करना निंदनीय
देहरादून। जिलाध्यक्ष प्रकाश नेगी ने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा लोकसभा चुनाव के ठीक पूर्व भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस एवं भारतीय यूथ कांग्रेस के बैंक अकाउंट फ्रीज करना निंदनीय है यह लोकतंत्र की हत्या करना जैसा है। उन्होने कहा कि मोदी सरकार पूर्णतः आने वाले लोकसभा चुनाव के लिए डरी हुई है , हमारी मांग यही है की फ्रीज किए गए बैंक अकाउंट्स को जल्द से जल्द सुचारू रूप से पुनः संचालित किया जाए।

आयकर विभाग के दफ्तर के समक्ष गरजे कांग्रेसजन
अल्मोड़ा। जिला कांग्रेस कमेटी अल्मोड़ा के जिलाध्यक्ष भूपेंद्र सिंह भोज के नेतृत्व में कांग्रेस पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं ने कांग्रेस और युवा कांग्रेस के खाते फ्रीज करने के विरोध में आयकर विभाग अल्मोड़ा के समक्ष धरना-प्रदर्शन किया और कहा कि मोदी सरकार के इशारे पर लोकतंत्र को बचाने में जुटी कांग्रेस के खिलाफ षडयंत्र रचा जा रहा है।
कांग्रेस जिलाध्यक्ष भूपेंद्र सिंह भोज ने आरोप लगाते हुए कहा कि भाजपा के पास सबसे ज्यादा आ रहा है, लेकिन आयकर विभाग खुली आंखों से भाजपा की तरफ देखने की हिम्मत नहीं कर पा रही है। उन्होंने आरोप लगाया कि विभाग कांग्रेस को परेशान करने की नीयत से रोज नया षड्यंत्र रच रहा है। उन्होंने कहा कि यह सब मोदी सरकार के इशारे पर हो रहा है, ताकि देश की मुख्य विपक्षी पार्टी कांग्रेस को आर्थिक रुप से कमजोर किया जा सके। इसलिए कांग्रेस के बैंक एकाउंट फ्रीज कर दिए हैं।



बैंक खाते फ्रिज होने पर कांग्रेसियो ने फंूका मोदी सरकार का पुतला
कोटद्वार। महानगर कांग्रेस कमेटी एवं युवा कांग्रेस ने कांग्रेस व युवा कांग्रेस कमेटी के बैंक खातों को  फ्रीज करने पर अपना आक्रोश जताया है। इस मामले को लेकर शनिवार को कांग्रेसियों ने  झंडा चैक पर मोदी सरकार का पुतला दहन अपना विरोध दर्ज किया। इसके साथ ही इलेक्टोरल बॉन्ड नीति पर सरकार को फटकार लगाने पर सुप्रीम कोर्ट के आदेश का स्वागत भी किया गया। इस मौके पर कांग्रेसियों ने कहा कि भाजपा की केंद्र सरकार लगातार अपनी नाकामियों को छुपाने के लिए इस तरह के हथकंडे अपना रही है जो स्वस्थ लोकतंत्र व्यवस्था के लिए शुभ संकेत नहीं है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस गैर लोकतांत्रिक गतिविधियों को देश में बर्दाश्त नही करेगी। पुतला दहन करने वालों में महानगर कांग्रेस कमेटी कोटद्वार के अध्यक्ष संजय मित्तल, कार्यकारी अध्यक्ष प्रवीन रावत, युवा कांग्रेस के जिला अध्यक्ष विजय रावत, पूर्व सैनिक प्रकोष्ट के जिला अध्यक्ष धीरेन्द्र बिष्ट, सेवा दल के महानगर अध्यक्ष महावीर रावत, महानगर कांग्रेस कमेटी कोटद्वार की महिला अध्यक्ष सुधा असवाल, छात्र संघ अध्यक्ष अभिषेक,पूर्व छात्र संघ अध्यक्ष अंकुश घिइसके अलावा मो अजुउरुदीन, मनीष चातुरी,बृजपाल सिंह नेगी, पूर्व राज्य मंत्री विजय नारायण, उपेंद्र सिंह नेगी, चन्द्र मोहन सिंह, सतेंद्र सिंह नेगी, जनक भाटिया, गणेश नेगी, सुनील दत्त सेमवाल ,सुदर्शन रावत, भारत सिंह ,दिलीप सिंह रावत, दान सिंह रावत, भोपाल सिंह अधिकारी, मोहम्मद इलियास सैफी, आशुतोष वर्मा ,सुनीता रावत, आशीष ,गोपाल सिंह गोसाई ,दिलीप सिंह रावत, जितेंद्र भाटिया, हेमचंद पंवार, राकेश शर्मा, राजेंद्र असवाल आदि मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *