Tue. Apr 23rd, 2024


हरिद्वार। जनपद की मनसा देवी मंदिर की पहाड़ी पर भूस्खलन रोकने के लिए भू-वैज्ञानिकों की टीम ने एक बार फिर स्थलीय निरीक्षण किया। डीएम के निर्देश पर सिंचाई विभाग,आईआईटी रुड़की से आए प्रोफेसर और यूएलएमएमसी के अधिकारियों ने मनसा देवी पैदल मार्ग पर पहुंचकर निरीक्षण किया।
जानकारी के अनुसार मनसा देवी मंदिर पर हर साल बरसात के सीजन में भूस्खलन होता है। जिससे हरकी पैड़ी क्षेत्र खतरे की जद में आ गया है। पिछले साल डीएम धीराज सिंह गर्ब्याल ने पहाड़ी का सर्वे कराकर ट्रीटमेंट कराने की बात कही थी। इसको लेकर अब तक कई मीटिंग और निरीक्षण हो चुके हैं, हालांकि ट्रीटमेंट अभी तक शुरू नहीं हुआ है। सिंचाई विभाग ईई मंजू डैनी ने बताया कि पहाड़ का ट्रीटमेंट दो भागों में किया जाएगा। पहले शॉर्ट टर्म कार्यों को पर फोकस किया जाएगा. उसके बाद मेजर कार्यों पर फोकस किया जाएगा। शॉर्ट टर्म कार्यों की अगर बात की जाए तो उसमें चेक डैम पहाड़ का ट्रीटमेंट और पहाड़ पर प्लांटेशन इत्यादि का कार्य किया जाएगा।
मेजर कार्यों की बात की जाए तो पहाड़ से मिट्टी शहर की ओर ना आए इसके लिए पहाड़ पर मिट्टी को रोकना व इसी के साथ पहाड़ की विशेषज्ञों द्वारा दी गई राय पर विचार करके मेजर कार्य किए जाएंगे। पहले चरण में हमारे द्वारा शॉर्ट टर्म कार्य पर फोकस किया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *