Tue. Apr 23rd, 2024

स्कूटी और दुकान का सामान बहा
जलभराव से लोगों की हुई फजीहत
हरिद्वार। धर्मनगरी हरिद्वार में रुक-रुक कर बारिश जारी है। जिससे जनजीवन प्रभावित हो गया है। तेज बारिश से कई जगहों पर पानी भर गया। विष्णु घाट के पास बाजार में तो इतना ज्यादा पानी भर गया कि देखते ही देखते ही दुकानों में रखा सामान बहने लगा। सामान बह जाने से दुकानदारों में अफरा तफरी का माहौल हो गया। बमुश्किल दुकानदार और स्थानीय लोगों ने सामान को बचाया। वहीं, बारिश की वजह से दोपहिया वाहन चालक और पैदल आवाजाही करने वाले लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा है।
बता दें कि उत्तराखंड मौसम विभाग ने बारिश और बर्फबारी की चेतावनी जारी की थी। जो एकदम सटीक साबित हुई है। प्रदेश के कई हिस्सों में बारिश और बर्फबारी हुई। हालांकि, आज यानी सोमवार को मौसम सामान्य है, लेकिन बीती देर रात जमकर बदरा बरसे। जबकि, ऊंचाई वाले इलाकों में भी बर्फबारी हुई। हरिद्वार की बात करें तो देर रात मूसलाधार बारिश हुई। जिस कारण जगह-जगह पर जलभराव हो गया। खासकर विष्णु घाट के पास तो बारिश ने तांडव मचाया। बारिश का पानी दुकानों और मकानों में घुस गया। साथ ही पानी के तेज बहाव में स्कूटी भी बह गई। जबकि, दुकानों के सामान भी पानी में बहते नजर आए।  दूसरी ओर ज्वालापुर की सड़कें पानी से लबालब हो गईं। गुरुद्वारा रोड, अंसारी मार्केट, कटरा बाजार, ज्वालापुर रेलवे अंडरपास की सड़कों पर जलभराव होने से वाहन चालकों और व्यापारियों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। सड़कों पर तेज बहाव से पानी बहता रहा। जल भराव के कारण मार्ग बाधित हो गया। जबकि, रानीपुर मोड़, रेलवे पुलिया, भगत सिंह चैक, चंद्राचार्य चैक के अलावा उत्तरी हरिद्वार की सड़कों पर भी पानी भर गया। जिसके चलते गंगाजल लेने आए कांवड़ियों को भी दिक्कतों का सामना करना पड़ा।


लक्सर में बारिश के साथ ओलावृष्टि से फसलें बर्बाद
हरिद्वार। लक्सर क्षेत्र में बीती रात मौसम के करवट बदलते ही बारिश के साथ ओलावृष्टि भी देखने को मिली। जिसके चलते किसानों के खेतों में गेहूं व सरसों की फसल को नुकसान पहुंचा है। साथ ही खानपुर क्षेत्र के एक ग्रामीण के घर पर आकाशीय बिजली गिरने से परिवार के तीन लोग घायल हो गए। वहीं कई घरों में बिजली के उपकरण खराब हो गए।
गौर हो कि हरिद्वार के लक्सर में बारिश व ओलावृष्टि से किसानों की गेहूं व सरसों की फसलों को भारी नुकसान हुआ है। किसानों ने बताया कि बारिश व तेज हवा के साथ ओलावृष्टि होने के कारण उनकी साल भर की मेहनत पर पानी फिर गया है। गांव सुल्तानपुर, भिककमपुर, रायसी, लक्सर, खानपुर क्षेत्र व पथरी क्षेत्र के गांव शेरपुर, धनपुरा, पदार्था, रानी माजरा, शाहपुर, बादशाहपुर, फेरुपुर, आदि गांव में ओलावृष्टि होने से लोगों की फसल जमीन पर बिछ गई है। वहीं खानपुर क्षेत्र के एक ग्रामीण के घर पर आकाशीय बिजली गिरने से परिवार के तीन लोग घायल हो गए और बिजली के सभी उपकरण खराब हो गए। किसानों ने बताया कि फसल का जहां सभी दाम तक नहीं मिल पाता वहीं कुदरत की मार से उन्हें काफी नुकसान हुआ है।वहीं पूर्व में लक्सर क्षेत्र में आई बाढ़ के कारण किसानों की गन्ने की फसल पूरी तरह से बर्बाद हो गई थी। जिससे वो अभी भी उभर नहीं पाए हैं। वहीं अब बेमौसम बारिश और ओलावृष्टि ने किसानों की एक बार फिर कमर तोड़ दी है। वहीं किसानों ने शासन-प्रशासन ने नुकसान का आकलन कर मुआवजा देने की मांग की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *