Mon. Apr 22nd, 2024

बरेली से लाकर उत्तराखण्ड के कई स्थानों पर करता था सप्लाई
देहरादून। एसटीएफ ने एक करोड 10 लाख की एक किलो 110 ग्राम स्मैक के साथ उत्तर प्रदेश के बरेली निवासी नशा तस्कर को हरिद्वार के मंगलौर गिरफ्तार किया है। जबकि उसका एक साथी मौके से फरार होने में कामयाब हो गया है। पकड़े गए नशा तस्कर को न्यायालय में पेश किया जहां से उन्हें जेल भेज दिया है।
ड्रग्स-फ्री देवभूमि अभियान-एंटी नार्कोटिक्स टास्क फोर्स और एसटीएफ की टीम ने उत्तर प्रदेश के बरेली जनपद के रहने वाले एक अन्तर्राज्यीय नशा तस्कर को एक करोड़ से अधिक की स्मैक के साथ हरिद्वार से गिरफ्तार किया है। यह गिरफ्तारी हरिद्वार में थाना मंगलौर क्षेत्र से की गई है। यह एनटीएफ की अब तक की सबसे बड़ी ड्रग बरामदगी है।
एसटीएफ के अपर पुलिस अधीक्षक चंद्र मोहन सिंह द्वारा जानकारी देते हुए बताया कि उत्तराखंड राज्य में बढ़ते नशे की प्रवृति की रोकथाम के लिए मुख्यमंत्री के उत्तराखंड के ड्रग्स-फ्री देवभूमि अभियान के अंतर्गत वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक एसटीएफ आयुष अग्रवाल ने ड्रग्स के खिलाफ कार्यवाही करने के आदेश पर एसटीएफ की ए.एन.टी.एफ टीम (एंटी नारकोटिक्स टास्क फोर्स) ने थाना मंगलौर जनपद हरिद्वार क्षेत्र से अभियुक्त मोहम्मद बिन कासिम पुत्र जाफर खान निवासी ग्राम खेलम थाना अलीगंज जनपद बरेली उत्तरप्रदेश को 1 किलो 110 ग्राम स्मैक के साथ गिरफ्तार किया गया।
मौके से एक अन्य आरोपी सलमान पुत्र जहांगीर निवासी पीरपुरा थाना मंगलौर जनपद हरिद्वार अंधेरे का फायदा उठाकर फरार हो गया, आरोपी कासिम ने पूछताछ पर बताया कि यह स्मैक बरेली से लेकर आया था जिसको वह थाना मंगलौर में फरार हुए आरोपी सलमान को देने आया था, इस पर एसटीएफ ने पूछताछ में अन्य कई ड्रग्स पैडलरो के नाम की जानकारी हुई है, जिन पर कार्रवाई की जायेगी।
वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक, एसटीएफ आयुष अग्रवाल ने आरोपी की गिरफ्तारी एवं बरामदगी में शामिल टीम को 10,000 के नगद पुरस्कार से पुरुस्कृत करने की घोषणा की गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *