Tue. Apr 23rd, 2024

अवैध संबंध छिपाने के लिए कातिल ने रंगे थे खून से अपने हाथ
हरिद्वार। एक माह पूर्व हुई नाबालिग की हत्या का खुलासा करते हुए पुलिस ने एक व्यक्ति को गिरफ्तार कर लिया है। हत्यारे ने अवैध सम्बन्धों को छिपाने के लिए ही अपने बेटे के दोस्त की हत्या को अंजाम दिया था।
वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक प्रमेन्द्र डोबाल द्वारा बताया गया कि बीती 23 फरवरी को खुब्बनपुर निवासी सरदार सिंह ने भगवानपुर थाने में अपने 13 वर्षीय नाबालिक बेटे कार्तिक की गुमशुदगी दर्ज कराई थी जिसकी जांच की जा रही थी। इस दौरान 25 फरवरी को गुमशुदा कार्तिक का शव ग्राम खुब्बनपुर थाना भगवानपुर में गन्ने के खेत से बरामद हुआ, जिसकी गला दबाकर हत्या की गयी थी। जांच के दौरान पुलिस को पता चला कि नाबालिग की गुमशुदगी वाले दिन 19 फरवरी को गांव खुब्बनपुर में दो शादियंा हुई थी। पूछताछ में यह भी सामने आया कि कार्तिक अपने हमउम्र गांव के बच्चो के साथ शादियो में घुडचडी के दौरान बारातियो द्वारा फैंके गये पैसो को उठाता था। इस पर पुलिस ने शादियों के वीडियों देखे तो पता चला कि दिन वाली शादी में तो कार्तिक मौजूद था लेकिन रात वाली में नहीं। कार्तिक के बारे में वह पैसों के लालच में किसी के साथ भी चला जाता था परन्तु वह जान पहचान वाले के साथ ही जाता था। इस बीच पुलिस को गांव में लगे एक सीसी कैमरे से पता चला कि गुमशुदगी वाले दिन वह एक व्यक्ति के साथ गांव से बाहर जा रहा है। जिसकी पहचान गांव में ही किराये पर रहने वाले अजय शर्मा के रूप में की गयी जो एक फैक्ट्री में काम करता है। जिस पर पुलिस ने उसकी तलाश शुरू कर दी जो गांव से गायब मिला। जिसे पुलिस द्वारा बीती रात अमोरवेट कम्पनी में जाने वाले रास्ते से गिरफ्तार किया गया। पूछताछ में उसने नाबालिग की हत्या करना कबूल करते हुए बताया कि वह अपने माता पिता व दो बच्चो के साथ ग्राम खुब्बनपुर में पिछले 6 माह से अपने रिश्तेदार राजीव शर्मा के यंहा किराये पर रह रहा है और उसकी पत्नी का देहांत वर्ष 2020 में हो चुका था। बताया कि वह अपने जानकार के माध्यम से एक औरत को दिनांक 18 फरवरी कोे माहडी चौक से साथ लेकर ग्राम खुब्बनपुर में गन्ने के खेत में लेकर गया। जहंा पर कार्तिक ने उसे औरत के साथ आपत्तिजनक हालत में देख लिया गया। मैनें कार्तिक को समझाया कि यह बात किसी को नही बताये परन्तु वह नही माना व वंहा से भाग गया मैं कार्तिक को जानता था वह मेरे बच्चो के साथ गांव में ठेली पर चाऊमिन खाने जाता था। मै घबरा गया कि कहीं वह यह बात किसी को न बता दे। इस पर मैने उसे पैसों का लालच दिया और गन्ने के खेत में ले जाकर उसकी गला दबाकर हत्या कर दी। आरोपी की निशांदेही पर पुलिस ने घटना के दिन पहने गये उसके कपड़े व जूते बरामद कर लिये गये। बहरहाल पुलिस ने उसे न्यायालय में पेश कर जेल भेज दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *