Thu. Feb 29th, 2024

हल्द्वानी। उत्तराखंड विजिलेंस की भ्रष्टाचार रोकथाम को लेकर ताबड़तोड़ कार्रवाई जारी है। शुक्रवार को दूसरी बड़ी कार्रवाई करते हुए उधमसिंह नगर जिले के काशीपुर ब्लॉक के जूनियर इंजिनियर को मनरेगा कार्यों के एवज में 10 हजार रूपये रिश्वत लेते रंगे हाथो गिरफ्तार किया है।
शिकायतकर्ता ने सतर्कता अधिष्ठान के टोल फ्री हेल्प लाईन न0 1064 पर शिकायत अंकित करायी गयी कि उसने मनरेगा के तहत 6-7 कार्य किये है, जिन कार्यों के पैसें आंवटित करने की (एमबी) बनाने के एवज में काशीपुर ब्लॉक के जे.ई. फईम अहमद सैफी ने 10 हजार रूपये रिश्वत की मांगी है। शिकायतकर्ता रिश्वत नहीं देना चाहता था, तथा भ्रष्ट कर्मचारी के खिलाफ कानूनी कार्यवाही चाहता था।
शिकायत पर सतर्कता अधिष्ठान सैक्टर हल्द्वानी ने गोपनीय जाँच किये जाने पर प्रथम दृष्टया सही पाये जाने पर तत्काल ट्रैप टीम का गठन किया गया, टीम ने नियमानुसार कार्यवाही करते हुए शुक्रवार को काशीपुर ब्लॉक के जे.ई. फईम अहमद सैफी, पुत्र रईश अहमद निवासी बाजपुर थाना बाजपुर जिला उधमसिंह नगर को शिकायतकर्ता से 10 हजार रूपये की रिश्वत लेते हुये रंगे हाथों ब्लॉक कार्यालय काशीपुर में गिरफ्तार किया गया है। आरोपी से पूछताछ की जा रही है, इस प्रकरण में भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के अन्तर्गत प्रकरण दर्ज कर अग्रिम अनुसंधान किया जायेगा।
निदेशक सतर्कता डॉ वी. मुरूगेसन ने ट्रैप टीम को नकद पुरस्कार से पुरस्कृत करने की घोषणा की गयी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *