Thu. Jul 18th, 2024

देहरादून। नवम्बर माह में उत्तराखंड में देश के राष्ट्रपति मुर्मू व प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आने वाले हैं। इसके लिए शासन प्रशासन ने तैयारियां शुरू करी दी हैं।।प्रधानमंत्री हाल ही में आदि कैलाश आये थे। जबकि दिसम्बर में ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट में भी प्रधानमंत्री शामिल होंगे। इधर, प्रधानमंत्री और राष्ट्रपति की सुरक्षा से लेकर व्यवस्था तक चाक चौबंद करने को अधिकारियों ने बैठकें शुरू कर दी हैं।
उत्तराखंड में नवम्बर माह वीवीआइपी के नाम रहेगा। सूत्रों का कहना है कि राज्य स्थापना दिवस 9 नवम्बर को राष्ट्रपति बतौर मुख्यातिथि होंगी। राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू 8 नवम्बर को केंद्रीय गढ़वाल विश्वविद्यालय के दीक्षांत समारोह में मुख्यतिथि शामिल होंगी। जहां से राष्ट्रपति देहरादून पहुंचेंगी। यहां से राष्ट्रपति 9 नवम्बर की राज्य स्थापना दिवस की परेड में शामिल होंगी। इसके लिए प्रस्तावित कार्यक्रम के बाद अफसरों ने बैठकें शुरू कर दी हैं। जबकि चारधाम यात्रा के कपाट भी नवम्बर में बंद हो रहे हैं। ऐसे में हर साल की भांति इस साल भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बाबा केदार के द्वार आ सकते हैं। बाबा केदारनाथ के कपाट 15 नवम्बर यानी भैयादूज के दिन बंद होंगे। ऐसे में 14 नवम्बर दिवाली के दिन प्रधानमंत्री मोदी दीप महोत्सव में केदारनाथ धाम आ सकते हैं। इसके लिए प्रधानमंत्री के सचिव ने कुछ दिन पहले केदारनाथ धाम पहुंचकर व्यवस्थाओं का जायजा लिया था। बहरहाल प्रधानमंत्री और राष्ट्रपति के उत्तराखंड आगमन की सूचना पर अफसरों ने तैयारियां शुरू कर दी हैं। इधर, दिसम्बर पहले सप्ताह में उत्तराखंड में ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट का भी बड़ा आयोजन होना है। इसके मुख्यातिथि भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी होंगे। ऐसे में नवम्बर से लेकर दिसम्बर तक राज्य में बड़े वीवीआइपी कार्यक्रम से अफसरों की परेड लगी रहेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *