Sun. Jun 16th, 2024

मुर्दों को जिंदा दर्शाकर जमीन बेचने का आरोप
देहरादून। धोखाधड़ी के आरोपी में गिरफ्तार किए गए उद्योगपति सुधीर विंडलास और उनके तीन साथियों को देहरादून में सीबीआई की स्पेशल कोर्ट में पेश किया गया। सीबीआई ने सुधीर विंडलास समेत चार आरोपियों की तीन दिन की रिमांड मांगी थी, लेकिन कोर्ट ने सीबीआई को सुधीर विंडलास की एक दिन ही रिमांद दी है।
शनिवार को सीबीआई फिर से सुधीर विंडलास और उसके साथियों को कोर्ट में पेश करेंगी। सीबीआई ने गुरुवार देर रात को सुधीर विंडलास और उसके तीन साथियों को धोखाधड़ी के आरोप में गिरफ्तार किया था। दरअसल, उत्तराखंड सरकार की संस्तुति पर सीबीआई ने सुधीर विंडलास समेत 20 लोगों के खिलाफ चार मुकदमें दर्ज किए थे।बता दें कि जनवरी 2022 में देहरादून के एक कारोबारी ने राजपुर थाने में सुधीर विंडलास और उनके परिजनों सहित कर्मचारियों के खिलाफ दो मुकदमे दर्ज कराए थे। मुकदमे के तहत सुधीर विंडलास ने जमीनों के फर्जी दस्तावेज बनाकर उन्हें बचा था और इसमें कहीं मृत लोगों को जिंदा दर्शाया गया था, जिनके स्थान पर अपने कर्मचारियों और साथियों को खड़ा किया गया था। इसके बाद एक मुकदमा पूर्व सैन्य अधिकारी ने दर्ज कराया था।
सुधीर विंडलास के खिलाफ साल 2018 में इसी तरह का एक मुकदमा दर्ज किया गया था। शुरुआत में इन सभी मुकदमों की जांच जिला पुलिस ने की थी, लेकिन पीड़ित पक्ष पुलिस जांच में संतुष्ट नहीं हुआ और इसके बाद पीड़ित पक्ष ने सरकार से सीबीआई से जांच करने की मांग की थी। सरकार ने विचार करने के बाद इन मुकदमों को सीबीआई को ट्रांसफर करने की संस्तुति कर दी थी।
सुधीर विंडलास के अधिवक्ता प्रवीण सेठ ने बताया कि सीबीआई ने आज कोर्ट में सुधीर विंडलास सहित चारो आरोपियों की तीन की रिमांड मांगी थी, लेकिन पक्ष विपक्ष के तर्क के बाद कोर्ट ने सभी की एक दिन दिन की रिमांड दी है और शनिवार को दोबारा से कोर्ट में पेश किए जायेगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *