Wed. Jul 17th, 2024

देहरादून। खुद को डाक्टर बताकर लोगों से लाखों रूपये की ठगी करने वाले मास्टरमाईंड नाईजीरियन को एसटीएफ ने दिल्ली से गिरफ्तार कर लिया है। शनिवार को यहां इसकी जानकारी देते हुए वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक एसटीएफ आयुष अग्रवाल ने बताया कि कुछ दिवस पूर्व साइबर क्राईम पुलिस स्टेशन उत्तराखण्ड देहरादून निवासी एक महिला ने सूचना दर्ज कराई कि अज्ञात साइबर ठगो ने वादिनी से फेसबुक व व्हाटसअप आदि के माध्यम से संपर्क कर व स्वंय को डा. विलियम रयकर यूएसए में डॉक्टर बताकर उसको विदेश से 25 हजार यूएस डॉलर गिफ्ट आईटम लेडिज सामान ब्रेसलेट ज्वैलरी और मोबाईल फोन, वॉच पर्स और कई अन्य कीमती सामान पार्सल से भेजने का प्रलोभन देकर व उसको कस्टम डिमार्टमेन्ट दिल्ली से पार्सल आने का लालच देकर, बैक खाते में यूएस डॉलर को इण्डियन करेन्सी में प्राप्त व कनवर्ट करने के नाम पर एवं विभिन्न कर ध् टैक्स के नाम पर उससे कुल 13,61,700 रूपये धोखाधडी से विभिन्न बैक खातो में स्थानान्तरित करवाये गये। गठित टीम ने घटना के शीघ्र अनावरण के लिए त्वरित कार्यवाही करते हुए घटना में प्रयुक्त मोबाईल नम्बर व सम्बन्धित खातों आदि की जानकारी व तकनीकी विश्लेषण किया गया तो इस अपराध में संलिप्त अपराधियों का दिल्ली से सम्बन्ध होना पाया गया। जिसमें टीम को सम्बन्धित स्थानों को रवाना किया गया। पुलिस टीम ने अथक मेहनत एवं प्रयास तथा तकनीकी विश्लेषण कर साक्ष्य एकत्रित करते हुये अभियोग में संलिप्त विदेशी (नाईजीरियन) को मोहन गार्डन दिल्ली से गिरफ्तार किया गया, जिसके कब्जे से 4 मोबाईल फोन, 1 लैपटॉप मय बैग व चार्जर, 2 पासपोर्ट बरामद हुये। पूछताछ में उसके द्वारा बताया गया कि उन्होंने डॉक्टर बनकर भोले भाले लोगों से सोशल प्लैटफॉर्म के माध्यम से दोस्ती कर तथा विश्वास में लेकर उनके लिए विदेशी मुद्रा तथा विदेश से गिफ्ट भेजने के नाम पर धोखाधड़ी की जाती है, जिसके लिये उनके द्वारा स्वयं को विदेशी नागरिक बनकर विदेश से धनराशि व विदेशी गिफ्ट भेजने का झांसा देकर भिन्न भिन्न एकाउन्ट में धनराशि जमा कराकर ठगी की गई है। इन अपराधियों ने उस विदेशी मुद्रा तथा गिफ्ट्स में विभिन्न टैक्स व कर के नाम पर धोखाधड़ी की जाती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *