Wed. Jul 17th, 2024

तीन का दिल्ली एम्स में चल रहा इलाज
देहरादून। उत्तराखंड के अल्मोड़ा बिनसर वन्यजीव अभयारण्य में 13 जून को हुए वनाग्नि कांड में मरने वाली की संख्या बढ़कर पांच हो गई। बुधवार 19 जून को दिल्ली एम्स में वन विभाग के पांचवें कर्मचारी कृष्ण कुमार ने उपचार के दौरान दम तोड़ दिया। इस अग्निकांड में झुलसे तीन लोगों का अभी भी दिल्ली एम्स में उपचार चल रहा है।
बता दें कि अल्मोड़ा जिले में स्थित बिनसर वन्यजीव अभयारण्य के जंगलों में 13 जून को आग लग गई थी। जंगल में आग लगने की सूचना मिलते ही वन विभाग के 8 कर्मचारी मौके के लिए रवाना हुए थे। वनकर्मियों ने देखा कि महादेव मंदिर के पास भी जंगल में आग लगी हुई है, जिसे बुझाने के लिए चार वनकर्मी वहीं पर गाड़ी से उतर गए है और बाकी चार आगे जाने लगे, लेकिन तभी हवां के तेज झोंका आया और जंगल में लगी आग ने विकराल रूप धारण कर लिया।
इस वनान्गि ने गाड़ी से उतरे चारों कर्मचारियों को अपनी चपेट में ले लिया। आग इतनी तेजी से फैल ही चारों कर्मचारियों को भागने का मौका तक भी नहीं मिला और उन्होंने वहीं पर तड़प तड़प कर दम तोड़ दिया। वहीं गाड़ी भी आग की चपेट में आई गई थी, जिससे गाड़ी में बैठ कर्मचारी भी आग में बुरी तरह से झुलस गए थे। हालांकि उन्हें वहां मौजूद ग्रामीणों ने किसी तरह बचाया और पास के हॉस्पिटल लेकर गए।
गंभीर से घायल वनकर्मियों को प्राथमिक उपचार के बाद डॉक्टरों ने हायर सेंटर हल्द्वानी सुशीला तिवारी हॉस्पिटल रेफर कर दिया था। लेकिन सरकार ने बेहतर इलाज के लिए सभी वनकर्मियों को एयरलिफ्ट कराकर दिल्ली एम्स रेफर कराया, जहां चार में से आज एक वनकर्मी की मौत हो गई। जिस वनकर्मी की आज 19 जून को मौत हुई है, उसका नाम कृष्ण कुमार था। कृष्ण कुमार इस अग्निकांड में 70 प्रतिशत तक झुलस गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *