Tue. Apr 23rd, 2024

प्राइवेट स्कूल के रजिस्टरों की कमियां छिपाने को ले रहे थे रिश्वत
काशीपुर। सीआरसी काशीपुर ब्लाँक में नियुक्त प्रधानाध्यापक व सहायक अध्यापक को 10 हजार रूपये रिश्वत लेते हुए विजिलेंस की टीम ने रंगे हाथों गिरफ्तार किया। प्राइवेट स्कूलो में चेकिंग के दौरान उनके स्कूल में मेंटेन की जाने वाले रजिस्टरों में पकड़ी गई कमियों को उच्च स्तर पर ना भेजने के एवज में शिक्षकों ने 10 हजार रूपये की रिश्वत की मांग की थी।  
 शिकायतकर्ता ने सतर्कता अधिष्ठान के टोल फ्री नम्बर 1064 पर शिकायत अंकित कराई कि सीआरसी काशीपुर ब्लाँक जो राजकीय प्राईमरी पाठशाला बासखेड़ा काशीपुर में स्थित है में नियुक्त प्रधानाध्यापक दिनेश शर्मा एवं सहायक अध्यापक अंकुर प्रताप काशीपुर ब्लाँक के अंतर्गत आने वाले  प्राइवेट स्कूलो में चेकिंग के दौरान उनके स्कूल में मेंटेन की जाने वाले रजिस्टरों में पकड़ी गई कमियों को उच्च स्तर पर ना भेजने के एवज में दस हजार रूपये की रिश्वत की मांग की जा रही है। शिकायतकर्ता भ्रष्ट कर्मचारी के विरूद्ध कानूनी कार्रवाई चाहता है।
  शिकायत सतर्कता अधिष्ठान सैक्टर नैनीताल, हल्द्वानी ने जाँच से प्रथम दृष्टया सही पाये जाने पर तत्काल ट्रैप टीम का गठन किया गया। टीम ने नियमानुसार कार्रवाई करते हुए प्रधानाध्यापक दिनेश शर्मा को शिकायतकर्ता से दस हजार की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथ एवं सहायक अध्यापक अंकुर प्रताप को रिश्वत की मांग करने के साक्ष्य होंने के आधार पर  सीआरसी कार्यालय जो राजकीय प्राईमरी पाठशाला बासखेड़ा काशीपुर में से गिरफ्तार किया गया है। प्रकरण में भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के अन्तर्गित प्रकरण दर्ज कर अग्रिम अनुसंधान किया जायेगा । निदेशक सतर्कता डॉ. वी. मुरूगेसन ने ट्रैप टीम को नगद पुरूष्कार से पुरूस्कृत करने की घोषणा की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *